शाहिद अन्सारीला न्याय मिळालाच पाहिजे
कमलेश सुतार,विनोद जगदाळे,अहसास अब्बास
यांच्यासह पन्नासावर पत्रकारांनी घेतली मुख्यमंत्र्यांची भेट

पत्रकार शाहिद अंसारी के समर्थन में उतरे मूंबई के पत्रकार,मुख्यमंत्री से की मुलाकात,अंसारी के खिलाफ़ सोशल साइट पर अफवाहों का बाज़ार गरम करने वालों के खिलाफ़ अब दर्ज होगी FIR : देवेन्द्र फडणवीस मुख्यमंत्री महाराष्ट्र

मुंबई:पत्रकार शाहिद अंसारी को लेकर जिस तरह से पहले मुंबई में और फिर मुंब्रा में झूटा मामला दर्ज किया गया है इस बात को लेकर आज मुबंई भर के सारे पत्रकारों ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस से मुलाकात कर मामले की सच्चाई बताई।पुलिस के ज़रिए जिन धाराओं के तहेत मामला दर्ज किया गया है मुख्यमंत्री ने उसे गलत करार देते हुए उन लोगों के खिलाफ़ साइबर सेल के ज़रिए कार्रवाई का आदेश दिया है जिन लोगों ने शाहिद अंसारी के खिलाफ़ झूटी अफवाहों का बाज़ार गरम किया है।अंसारी को लेकर मुईन मियां के समर्थक सोशल साइट पर वॉंटेड और 51000 के इनाम की घोषणा की है इसको लेकर जल्द ही साइबर सेल में मामला दर्ज होगा।

मुख्यमंत्री से मिलने वालों में आज तक के डिप्टी एडिटर कमलेश सुतार, ज़ी न्यूज़ के पॉलिटिकल हेड अहसन अब्बास, न्यूज़ 24 के ब्युरो चीफ़ विनोद जगदाले, एबीपी न्यूज़ से ऋत्विक भालेकर, ई-टीवी से वसीम अंसारी, टीवी 9 से तुषार शेटे, न्यूज़ 24 से अविनाश पांडेय, इंडिया टीवी से अश्विन पांडेय, लाइव इंडिया से राहुल शर्मा, एएनआई से राज़िक़ खान के साथ तकरीबन 50 पत्रकारों के ज़रिए मुख्यमंत्री से बात की गई जिसके बाद मुख्यमंत्री ने मामले को गंभीरता से लेते हुए मामले को साइबर सेल में दर्ज करने का आदेश जारी किया।

आज़ाद मैदान दंगों के आरोपी और अंजुमन इस्लाम के 250 करोड़ ज़मीन पर अपना क़बज़ा दिखाने वाले मुईन मियां को जिस तरह से शाहिद अंसारी ने बेनक़ाब किया है।उसके बाद से मुईन मियां के समर्थको ने शाहिद अंसारी के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को आहत करने और सच्चाई लिखने की वजह अपराध की साज़िश रचने का झूटा मामला दर्ज करवाया है।जबकि इस कबज़े को लेकर वक्फ़ बोर्ड ने नोटिस जारी कर मामले की सुनाई कर रहा है।

LEAVE A REPLY