Saturday, May 15, 2021

युपीत एका पत्रकारावर हल्ला

अगोदर शहाजहांपूरचे पत्रकार गजेद्रंसिह यांना अंगावर रोॅकेल अोतून जाळण्यात आलं,नंतर कानपूरचे पत्रकार कानपूरचे पत्रकार दीपक मिश्रा यांना गोळ्या घालण्यात आल्या आता लखनौच्या अमर उजालाचे ब्युरी चीफ धीरज पांडे यांच्यावर जीवघेणा हल्ला केला गेला आहे.त्यांची प्रकृत्ती चिंताजनक असून त्यांच्यावर उपचार सुरू आहेत.

बस्ती (उत्तर प्रदेश) : एक और पत्रकार को समाजवादी पार्टी के विधायक ने मौत के घाट उतारने की कोशिश की। पत्रकार की हालत गंभीर है। लखनऊ के ट्रामा सेंटर में भरती कराया गया है। वह पांच जून की रात से लगातार कोमा में हैं। बताया गया है कि अमर उजाला प्रबंधन, प्रशासन और पुलिस सब इस मामले को दबाने में लगे हुए हैं।

बस्ती अमर उजाला ब्यूरो के जिला प्रभारी धीरज पांडेय जब पांच जून की रात एक बजे एक शादी समारोह से अपने घर लौट रहे थे, पहले से घात लगाए बांसी के पूर्व विधायक लालजी यादव के गुर्गों ने सफारी गाड़ी से उनकी बाइक में पीछे से तेज धक्का मार कर गिरा दिया। उन्हें मरा हुआ समझ कर हमलावर तेजी से भाग निकले। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने हमलावरों की गाड़ी अपने कब्जे में ले ली।

गंभीर घायल धीरज पांडेय को तुरंत स्थानीय अस्पताल में भर्ती कराया गया। उनके दोनो पैर टूट गए हैं। सिर में गंभीर चोट के कारण वह कोमा में चले गए। वहां के डॉक्टरों ने अगले दिन पांडेय को लखनऊ रैफर कर दिया। उन्हें यहां के ट्रामा सेंटर में भरती कराया गया है। उनकी हालत पिछले आठ दिनों से गंभीर बनी हुई है।

बताया गया है कि हादसे का रूप देकर धीरज पांडेय को खत्म कर देने की योजना थी। समाजवादी पार्टी का पूर्व विधायक होने के नाते स्थानीय प्रशासन और पुलिस ने अपने हाथ समेट रखे हैं। सिर्फ थाने में नेता की गाड़ी खड़ी कराई गई है। बताते हैं कि अभी तक घटना की रिपोर्ट भी दर्ज नहीं हुई है। इस सुनियोजित कांड से जिले के पत्रकारों में भारी रोष है।

 

Related Articles

उध्दवजी आता तरी हट्ट सोडा

मध्य प्रदेश सरकार घेणार कोराना बाधित पत्रकारांची काळजीमहाराष्ट्र सरकार आपला हट्ट कधी सोडणार : एस.एम.देशमुख मुंबई : मध्य प्रदेशमधील शिवराज सिंह चौहान सरकार राज्यातील कोरोना...

कुबेरांची कुरबूर

कुबेरांची कुरबूर अग्रलेख मागे घेण्याचा जागतिक विक्रम लोकसत्ताचे संपादक गिरीश कुबेर यांच्या नावावर नोंदविला गेलेला आहे.. तत्त्वांची आणि नितीमूल्यांची कुबेरांना एवढीच चाड असती तर त्यांनी...

पत्रकारांच्या प्रश्नांवर भाजप गप्प का?

पत्रकारांच्या प्रश्नावर भाजप गप्प का? :एस.एम.देशमुख मुंबई : महाराष्ट्र सरकार पत्रकारांना फ़न्टलाईन वॉरियर्स म्हणून घोषित करीत नसल्याबद्दल राज्यातील पत्रकारांमध्ये मोठा असंतोष असला तरी विरोधी पक्ष...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

21,960FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles

उध्दवजी आता तरी हट्ट सोडा

मध्य प्रदेश सरकार घेणार कोराना बाधित पत्रकारांची काळजीमहाराष्ट्र सरकार आपला हट्ट कधी सोडणार : एस.एम.देशमुख मुंबई : मध्य प्रदेशमधील शिवराज सिंह चौहान सरकार राज्यातील कोरोना...

कुबेरांची कुरबूर

कुबेरांची कुरबूर अग्रलेख मागे घेण्याचा जागतिक विक्रम लोकसत्ताचे संपादक गिरीश कुबेर यांच्या नावावर नोंदविला गेलेला आहे.. तत्त्वांची आणि नितीमूल्यांची कुबेरांना एवढीच चाड असती तर त्यांनी...

पत्रकारांच्या प्रश्नांवर भाजप गप्प का?

पत्रकारांच्या प्रश्नावर भाजप गप्प का? :एस.एम.देशमुख मुंबई : महाराष्ट्र सरकार पत्रकारांना फ़न्टलाईन वॉरियर्स म्हणून घोषित करीत नसल्याबद्दल राज्यातील पत्रकारांमध्ये मोठा असंतोष असला तरी विरोधी पक्ष...

वेदनेचा हुंकार

वेदनेचा हुंकार एक मे हा दिवस प्रचंड तणावात गेला.. तणाव उपोषणाचा किंवा आत्मक्लेषाचा नव्हताच.. मोठ्या हिंमतीनं, निर्धारानं अशी शेकड्यांनी आंदोलनं केलीत आपण.. ती यशस्वीही केलीत.....

पुन्हा तोंडाला पाने पुसली

सरकारने पत्रकारांच्या तोंडाला पुन्हा पुसली मुंबई : महाराष्ट्रातील पत्रकारांना फ़न्टलाईन वर्कर म्हणून जाहीर करण्याचा निर्णय आजच्या कॅबिनेटमध्ये होईल अशी जोरदार चर्चा मुंबईत होती पण...
error: Content is protected !!